648863-stock-market

जानिये शेयर बाजार में पैसे लगाना क्यों जरूरी है?

हर इंसान को शेयर बाजार में पैसे लगाना पसंद नहीं है। कुछ को लगता है कि इससे कोई फायदा नहीं होता। कुछ इसे जुआ मानते हैं। कुछ लोगों को लगता है कि शेयर बाजार में पैसा आसानी से बन जाता है। इसलिए वे इसे शक की नजर से देखते हैं। कुछ को लगता है कि शेयर बाजार में निवेश पर रिटर्न की गारंटी क्यों नहीं होती? कुछ को बैंक फिक्स्ड डिपॉजिट इतना पसंद है कि वे इक्विटी में निवेश की माथापच्ची से दूर रहना चाहते हैं। ऐसे भी लोग हैं, जिन्हें शेयर बाजार बहुत पसंद है। यह बात और है कि उन्हें इसकी बिल्कुल भी समझ नहीं है। 

इक्विटी इन्वेस्टिंग की असल स्टोरी एक दूसरे से बिल्कुल अलग ध्रुव वाली इन सोच के कहीं बीच की है। बिना सोचे-समझे ट्रेडिंग करने से कोई भी अमीर नहीं बन सकता। अगर आप बार-बार मुनाफे के लिए किसी ट्रिक का इस्तेमाल नहीं कर सकते तो उसका कोई मतलब नहीं है। शेयर बाजार को जुआ समझकर उसकी अनदेखी करने से भी कोई फायदा नहीं होगा। इससे वेल्थ क्रिएशन का शानदार मौका आपके हाथ से निकल जाता है। इक्विटी में पैसा लगाने वाले आम निवेशकों को कुछ बातों का ख्याल रखना चाहिए। 

डाउनलोड करे शेयर मार्केट फ्री इ बुक और सीखे कैसे शेयर मार्केट में किया जाता है काम

पहला, शेयर में निवेश करना, किसी बिजनस में निवेश करने जैसा है। इसमें यह पता लगाना मुश्किल है कि कंपनी का भविष्य कैसा होगा। इसलिए इक्विटी इन्वेस्टमेंट जोखिम भरा और रोमांचक होता है। दूसरा, अक्सर आपको ऐसी कहानियां सुनने को मिलेंगी कि किस तरह से फलां शख्स ने शेयर बाजार में मामूली रकम लगाकर शुरुआत की थी और आज वह करोड़पति या अरबपति है। यह सिक्के का एक पहलू है। पिछले वर्षों में किसी कंपनी के शेयर प्राइस में हैरतअंगेज बढ़ोतरी पर फिदा होना आसान है, लेकिन अगर आप किसी स्मार्ट इन्वेस्टर से बात करें तो वह बताएगा कि बाजार से पैसा बनाने में उसने कैसे-कैसे उतार-चढ़ाव देखे हैं। अगर किसी का एक निवेश सफल होता है तो कई शेयरों में उसे असफलता भी मिली होती है। वह यह भी बताएगा कि उसे फलां शेयर से इतने रिटर्न की कतई उम्मीद नहीं थी। 

तीसरा, स्टॉक चुनने का कोई आसान तरीका नहीं है। इससे कई पहलू जुड़े होते हैं। आपको पता नहीं होता कि आगे चलकर इनमें से कौन इंपॉर्टेंट बन जाएगा और किन फैक्टर्स का बिल्कुल भी असर नहीं होगा। जिन लोगों ने स्टॉक ऐनालिसिस में पूरी जिंदगी खपा दी है, उन्हें पता होता है कि किसी सफल स्टॉक में क्या होना चाहिए। वे किसी कंपनी से जुड़े खतरे को भांप सकते हैं, लेकिन पक्के तौर पर वे भी किसी शेयर के मल्टीबैगर होने का डंका नहीं पीट सकते क्योंकि वे इस बारे में स्योर नहीं होते। उन्हें पता होता है कि किसी शेयर को चुनने में गलती हो सकती है। इसलिए वे विनम्र होते हैं और चुप रहते हैं। इसलिए आपको जो भी टिप मुफ्त में मिल रही हो, उसे इग्नोर करिए। 

डाउनलोड करे शेयर मार्केट फ्री इ बुक और सीखे कैसे शेयर मार्केट में किया जाता है काम

चौथा, कौन सा शेयर खरीदना चाहिए? यह फैसला मुश्किल होता है। स्टॉक एक्सचेंजों पर हजारों शेयर लिस्टेड हैं। किसी को नहीं पता होता कि इनमें से कौन सा मल्टीबैगर साबित होगा और उसमें कितना वक्त लगेगा। निवेशक स्टॉक चुनने का अपना स्टाइल डिवेलप करते हैं। आप कोई शेयर क्यों खरीद रहे हैं, इसे लिखिए। इसके बाद उसके परफॉर्मेंस को ट्रैक करिए। इससे पता चलेगा कि आपने जो सोचकर शेयर खरीदा था, वह सोच सही साबित हुई या नहीं। एक ट्रेडर प्राइस टारगेट तय करता है। शॉर्ट टर्म इन्वेस्टर के साथ समयसीमा की पाबंदी होती है, लेकिन वैल्यू इन्वेस्टर हमेशा मार्जिन ऑफ सेफ्टी पर ध्यान देता है। 

पांचवां, इन्फॉर्मेशन और ऐनालिसिस में एक आम निवेशक के हाथ बंधे होते हैं। ब्रोकरेज हाउस इसके लिए खास लोगों को हायर करता है। वह डेटाबेस तैयार करता है। रिसर्च पर पैसे खर्च करता है। वह स्टॉक्स को ट्रैक करता है और रिपोर्ट्स बेचता है। एक आम निवेशक सार्वजनिक सूचनाओं के आधार पर किसी शेयर का विश्लेषण कर सकता है। गंभीरता से स्टॉक रिसर्च करने वाले अक्सर दूसरों के साथ मिलकर काम करते हैं। वे रिसर्च की लागत मिलकर उठाते हैं। स्टॉक्स पर चर्चा करते हैं। आप ऑनलाइन चैट फोरम और टीवी प्रोग्राम को रिसर्च मानने की भूल न करें। शेयर बाजार से पैसा बनाने के लिए आपको गंभीरता से रिसर्च करने के लिए तैयार रहना चाहिए। 

डाउनलोड करे शेयर मार्केट फ्री इ बुक और सीखे कैसे शेयर मार्केट में किया जाता है काम

छठा, बाजार से पैसा एक शेयर से नहीं बनाया जा सकता। बिजनस की दुनिया में भी हर शख्स जेफ बेजोस या बिल गेट्स नहीं हो सकता। ऐसे बहुत कम लोग हैं, जो एक कंपनी या बिजनस पर अपना सबकुछ न्योछावर कर सकते हों। हम कई शेयरों में निवेश करते हैं और यही ठीक भी है। इस बात का ध्यान रखिए कि आप एक पोर्टफोलियो तैयार कर रहे हैं। आप इस पर ध्यान दीजिए कि किस कंपनी में कितना पैसा लगाना है। अगर आप बहुत अधिक शेयरों में मामूली रकम लगाते हैं तो आप अमीर नहीं बन सकते। याद रखिए कि आज दुनिया के सर्वाधिक अमीर लोगों की लिस्ट में आपको कई इक्विटी इन्वेस्टर मिलेंगे। 

Connect With Us
Facebook
Facebook
Instagram
LinkedIn
Tags: No tags

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *