648863-stock-market

शेयरों में निवेश करना चाहते हैं तो ये 7 बातें आपको जरूर जाननी चाहिए

हर किसी को शेयरों में निवेश करना पसंद नहीं है. कुछ लोग इसे फालतू मानते हैं. कई इसकी तुलना जुए से करते हैं. कई लोग इसे संदेह की नजर से देखते हैं. कुछ गारंटी न होने के कारण इसे नापसंद करते हैं. तो, कई अपने फिक्स्ड डिपॉजिट से इतना प्यार करते हैं कि उन्हें कोई दूसरी चीज नहीं दिखती है. वहीं, तमाम ऐसे भी हैं जिन्हें इससे भरपूर प्यार है.

 फिर भले ही उन्हें शेयरों में निवेश की कोई समझ न हो. शेयरों में ट्रेडिंग पारंपरिक गढ़ों से निकलकर देशभर में फैल रही है. इसका श्रेय वास्तव में इलेक्ट्रॉनिक ट्रेडिंग स्क्रीन और टेक्नोलॉजी को जाता है. शेयर में निवेश की एक सच्चाई है. बेशक इसमें बहुत पैसा बना सकते हैं. लेकिन, सनक में ट्रेडिंग से भला नहीं होता है. इससे कोई अमीर नहीं बना है. किस्मत बहुत मेहरबान हो तो नहीं कहा जा सकता है. लेकिन, जो तरकीब फायदा उठाने के लिए फिर काम न आए तो वह भी बेकार है.

डाउनलोड करे शेयर मार्केट फ्री इ बुक और सीखे कैसे शेयर मार्केट में किया जाता है काम

शेयरों में निवेश की जुए से तुलना भी गलत है. यह पैसे को बढ़ाने का बिल्कुल वैध तरीका है. सवाल उठता है कि एक सामान्य निवेशक को शेयरों में निवेश करते हुए किन बातों को ध्यान में रखना चाहिए.

पहला, इक्विटी में निवेश किसी कारोबार के भविष्य में पैसा लगाना है. तमाम विशेषज्ञता के बावजूद कोई दावे से नहीं कह सकता कि कौन-सा कारोबार सफल होगा और किसे विफलता मिलेगी. इसी से आपके निवेश के लिए जोखिम बनता है. जब हम किसी अनजान जगह हाथ डालते हैं तो घबराहट लाजिमी है.

दूसरा, आप कई बार सुनते होंगे कि कैसे किसी ने कौड़ियों के भाव पर शेयर खरीदे और आज कैसे वह लाखों-करोड़ों की रकम पर बैठा है. यकीन मानिए यह सिक्के का सिर्फ एक पहलू है. आपको वह निवेशक ही बता पाएगा कि उसने क्या-क्या पापड़ बेले और उसके लिए एक मुकाम तक पहुंचने का सफर कितने रोड़ों से भरा रहा. एक सफल कहानी के पीछे सौ असलताएं होती हैं. इनकी कोई बात नहीं करता है.

डाउनलोड करे शेयर मार्केट फ्री इ बुक और सीखे कैसे शेयर मार्केट में किया जाता है काम

 तीसरा, शेयर को चुनने का कोई आसान तरीका नहीं है. इसमें कई बातें काम करती हैं. कोई नहीं कह सकता कि किस बात को ज्यादा तवज्जो मिल जाएगी और किसकी अनदेखी होगी. सालों के अनुभव के बाद लोग कुछ बातों के आधार पर तेजी और नरमी की संभावना जताने लगते हैं. लेकिन, वे भी हमेशा सही साबित नहीं होते हैं. इन एक्सपर्ट को भी पता होता है कि वे गलत हो सकते हैं. यही वजह है कि वे विनम्रता के साथ इस चीज को स्वीकारते हैं. इस तरह की सभी टिप्स की अनदेखी करें जो मुफ्त में दी जाती हैं.

चौथा, शेयर को खरीदने का फैसला कठिन होता है. चुनने के लिए शेयरों की भरमार है. कोई नहीं जानता कि किस शेयर को पंख लग जाएं. सभी ने अपने-अपने तरीके बना रखे हैं. स्टॉक ट्रेडर प्राइस टार्गेट रखते हैं. शॉर्ट-टर्म इंवेस्टर टाइम फ्रेम रखते हैं. वैल्यू इंवेस्टर सेफ्टी का मार्जिन रखते हैं. लिस्ट लंबी है. कुल मिलाकर खरीदारी अनुशासन के अधीन है. एक निवेशक को पता होना चाहिए कि उसने कोई शेयर क्यों लिया है.

डाउनलोड करे शेयर मार्केट फ्री इ बुक और सीखे कैसे शेयर मार्केट में किया जाता है काम

पांचवां, सूचनाओं तक पहुंच की कमी के कारण सामान्य निवेशकों को नुकसान उठाना पड़ता है. ब्रोकिंग हाउस डेटाबेस खरीदते हैं. रिसर्च करते हैं. अपने यहां कुशल लोगों को नौकरी पर रखते हैं. शेयरों को ट्रैक करते हैं और रिपोर्ट बेचते हैं. सामान्य निवेशकों को सार्वजनिक रूप से उपलब्ध जानकारी पर निर्भर रहना पड़ता है. ऑनलाइन चैट और टीवी के कार्यक्रमों को रिसर्च समझने की भूल नहीं करनी चाहिए.

छठा, एक दांव लगाकर पैसा नहीं बनाया जा सकता है. हर कोई बिल गेट्स या जेफ बेजोस नहीं बना सकता है. हममें से ज्यादातर के पास एक ही बिजनेस में अपना सब कुछ लगा देने की हिम्मत नहीं होती है. हम सभी कई शेयरों में निवेश करते हैं. यही करना भी चाहिए. किस तरह का पोर्टफोलियो बन रहा है, इस पर फोकस बनाकर रखना चाहिए.

सातवां, जब आपको भविष्य का पता नहीं होता है. आप शेयर को पूरी जानकारी के अभाव में खरीते हैं. फिर वह अच्छा परफॉर्म नहीं करता है. तो, अपनी गलती स्वीकार करनी चाहिए. सही शेयरों को चुनने से ही पैसा नहीं बनाया जाता है. आपको यह भी पता होना चाहिए कि किस निवेश रणनीति ने आपको नुकसान कराया. कई लोग खराब शेयर को उसके बढ़ने की उम्मीद लगाकर रोके रखते हैं. यही नहीं, और पैसा भी लगा देते हैं. जो लोग अपनी गलती नहीं मानते हैं, उन्हें शेयरों में निवेश में भारी नुकसान उठाना पड़ता है.

डाउनलोड करे शेयर मार्केट फ्री इ बुक और सीखे कैसे शेयर मार्केट में किया जाता है काम

शेयरों का डायवर्सिफाइड पोर्टफोलियो अच्छा है. इनमें वे शेयर होने चाहिए जिनमें भविष्य में बढ़ने की क्षमता दिखती हो. ऐसा नहीं होने पर इन शेयरों को बदल देना चाहिए. तभी आप बढ़िया रिटर्न की अपेक्षा कर सकते हैं. इंडेक्स ईटीएफ में निवेश अच्छा है और सस्ता भी. दुनिया में आज सबसे अमीर लोग शेयर निवेशक हैं. आप भी पीछे मत रह जाइए.

Connect With Us
Facebook
Facebook
Instagram
LinkedIn
Tags: No tags

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *