BAKS CLOTHING CO. (2)

निवेश से जुड़ी 5 बुरी आदतें, पहुंचा सकती हैं आपको भारी नुकसान

निवेश करना अच्छी बात है, क्योंकि इससे अच्छे भविष्य के लिए लक्ष्य निर्धारित होता है, लेकिन अगर निवेश सही नहीं हुआ तो लक्ष्य भी पूरा नहीं होगा और धन का नुकसान भी होगा। धन को सही जगह निवेश करने से फायदे होते हैं उसके लिए सही कुछ सही आदतों को पालन करना होता है। आज हम आपको उन बुरी आदतों के बारे में बता रहे हैं, जिनसे निवेश में नुकसान उठाना पड़ सकता है। अगर आप इनसे भी छुटकारा पा लेंगे तो आपका आज और भविष्य दोनों अच्छा हो जाएगा।

जल्द अमीर बनाने वाले निवेश: ऐसी स्कीम से हमेशा दूर रहें जो कि जल्द अमीर बनाने का वादा करती हो। छोटी स्कीम की जगह लंबे अंतराल वाली स्कीम में निवेश कीजिए और छोटी अवधि के फायदे को देख लालच में न आएं, लंबी अवधि के लक्ष्यों को ध्यान में रखें। अगर आप अपने लक्ष्यों के लिए म्युचुअल फंड में निवेश कर रहे हैं तो इसके लिए थोड़ा इंतजार भी करना होगा।

डाउनलोड करे शेयर मार्केट फ्री इ बुक और सीखे कैसे शेयर मार्केट में किया जाता है काम

बिना बजट बनाए निवेश करना: अधिकतर लोगों में निवेश से जुड़ी बुरी आदत बजट न बनाना होती है। बजट सिर्फ रोजाना के खर्च के लिए ही जरूरी नहीं है बल्कि ये बचत और निवेश के लिए भी जरूरी है। सबसे पहले बजट बनाइए और उसके बाद ही निवेश कीजिए अन्यथा आपको बीच में ही दिक्कत आ सकती है।

सिर्फ रिटर्न्स के लिए निवेश करना: बिना किसी उद्देश्य के लिए निवेश करना फायदे से ज्यादा हानि पहुंचा सकता है। आपका उद्देश्य कुछ भी हो सकता है ये लंबे समय या छोटे समय के लिए भी हो सकता है, लेकिन ये ध्यान देना जरूरी है कि आप किसके लिए निवेश कर रहे हैं। किसी का उद्देश्य अमीर बनना हो सकता है तो किसी को बेटी की शादी के लिए निवेश करना है तो किसी को बच्चों की हायर एजुकेशन के लिए निवेश करना है। अगर आपका निवेश बाजार के उतार चढ़ाव के हिसाब से नहीं है तो उससे आपके आर्थिक उद्देश्य भी पूरे नहीं होंगे।

डाउनलोड करे शेयर मार्केट फ्री इ बुक और सीखे कैसे शेयर मार्केट में किया जाता है काम

परिवार या मित्रों के दबाव में आकर निवेश करना: आपके मित्र, परिवार, पड़ोसी, या अकंल-आंटी अच्छे रिटर्न्स का दावा कर सकते हैं, लेकिन क्या उनकी सलाह आपके उद्देश्य के लिए सटीक बैठती हैं? आप निवेश करने में समय ले सकते हैं अगर आपको सही नहीं लगता है तो ऐसी जगह निवेश मत कीजिए।

रिटायरमेंट निवेश को टालना: रिटायरमेंट के लिए निवेश करना लंबा उद्देश्य हो सकता है, लेकिन भविष्य में इसकी बहुत ज्यादा जरूरत होती है। रिटायरमेंट निवेश की बार-बार समीक्षा भी अच्छी आदत नहीं है। रिटायरमेंट निवेश के फैसले को टालना भी अच्छा नहीं होता। रिटायरमेंट के लिए प्रत्येक माह छोटे से छोटा निवेश भी करेंगे तो भविष्य में ये एक बड़ी रकम बनकर आपको फायदा पहुंचाएगा। इसलिए रिटायरमेंट निवेश की शुरुआत जल्द से जल्द करें।

Connect With Us
Facebook
Facebook
Instagram
LinkedIn
Tags: No tags

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *